देखिए, ढाई कुंटल गाय के गोबर से कैसे तैयार किए गोवर्धन

दीपावली के बाद आज अलीगढ़ के नगला मसानी स्थित श्री गौमाता सेवा समिति में सुबह से ही गोवर्धन पूजा की तैयारियां की गई। इस दौरान दर्जनों महिलाएँ और बच्चे गोवर्धन बनाने में जुट गये।

श्री गौमाता सेवा समिति की संचालिका कृष्णा गुप्ता ने बताया कि पिछले 15 सालों से हम गोवर्धन बनाकर परिक्रमा का आयोजन करते हैं जिसमें प्रशासनिक सामाजिक और क्षेत्रीय लोग शामिल होते हैं । इस बार भी हम दर्जनों महिलाओं और बच्चों ने मिलकर गोवर्धन को तैयार किया है इसमें ढाई कुंतल गाय के गोबर का इस्तेमाल किया गया है और उनकी रंगों व फूलमालाओं से सजावट की गई है।

इसके बाद सभी लोग गोवर्धन की परिक्रमा करते हैं तत्पश्चात प्रसाद वितरण होता है और सभी लोग प्रसाद का आनंद लेते हैं उन्होंने बताया कि आज के गोवर्धन पूजा का महत्व कृष्ण लीला में मिलता है।