बच्चों के सरंक्षण को रेलवे जंक्शन पर खुला बाल सहायता बूथ

भारत सरकार के महिला एवं बाल विकास मंत्रालय, रेल मंत्रालय एवं चाइल्डलाइन इंडिया फाउंडेशन के संयुक्त प्रयासों से बालकों के हितार्थ अलीगढ़ जंक्शन पर मंडल के प्रथम बाल सहायता बूथ का उद्घाटन जिला प्रोबेशन अधिकारी स्मिता सिंह, शिवनारायण शर्मा एवं संजय पंडित सदस्य (क्षेत्रीय रेल उपयोगकर्ता परामर्शदात्री समिति) द्वारा संयुक्त रूप से किया। 

इस अवसर पर बाल सहायता बूथ के विषय में बताते हुए जिला प्रोबेशन अधिकारी स्मिता सिंह ने कहा कि इसके माध्यम से रेलवे स्टेशन परिसर में बालकों के संबंध में देखभाल एवं संरक्षण के मामलों को चाइल्ड लाइन के माध्यम से देखा जा सकेगा। 

शिवनारायण शर्मा (क्षेत्रीय रेल उपयोगकर्ता परामर्शदात्री समिति) ने कहा कि भारत सरकार बालकों के मामलों में बहुत संवेदनशीलता का परिचय दिया है। देश भर में स्थापित किया जा रहे बाल सहायता बूथ इसका उदाहरण है। 

उड़ान सोसायटी के अध्यक्ष एवं चाइल्ड लाइन के निदेशक ज्ञानेंद्र मिश्रा के अनुसार यह बूथ चौबीस घंटे टोल फ्री नंबर 1098 के माध्यम से कार्य करेगा। जहां हमेशा टीम सदस्य बैठेंगे।

इससे पूर्व रेलवे जीएम राजीव चौधरी ने बाल सहायता बूथ का निरीक्षण भी किया। उन्होंने निदेशक ज्ञानेंद्र मिश्रा से बूथ संचालन की पूरी प्रक्रिया को समझा। इसके साथ ही उन्होंने रेलवे स्टेशन पर कार्य करने वाले पोटर्स व रेलवे स्टाफ को भी बालकों के विषय पर जागरूक करने को कहा।

उद्घाटन कार्यक्रम में प्रमुख रूप से डी आर एम अमिताभ, स्टेशन अधीक्षक डी के गौतम, आरपीएफ इंस्पेक्टर चमन सिंह तोमर, इंस्पेक्टर जीआरपी यशपाल सिंह, समन्वयक आकृति सिंह, टीम सदस्य नीलम सैनी, सीमा भारती, नासिर अली खान, ज़ीशान अहमद, गौरव वर्मा, रेखा सिंह, रुचि सक्सेना, शबनम, मेधा शर्मा, आशीष पॉल, शिरीन राजेन्द्र, रोहित शर्मा सागर शिसोदिया, तोषित वार्ष्णेय, तनिष्का गंभीर आदि उपस्थित रहे।