किसानों की समस्याओं को दूर नहीं किया तो सड़क पर होगा आंदोलन : भानु प्रताप सिंह

भारतीय किसान यूनियन भानु के राष्ट्रीय अध्यक्ष भानु प्रताप सिंह ने आज अलीगढ़ में आकर किसानों की समस्याएं सुनी और उन्होंने किसानों को आश्वासन दिया कि यदि प्रशासन ने 1 महीने में अंदर किसानों की समस्याओं को दूर नहीं किया तो सड़क पर उतरकर आंदोलन होगा।

उन्होंने संगठन के विस्तार को करते हुए अलीगढ़ में संगठन के जिला अध्यक्ष बबलू प्रधान को नई जिम्मेदारी दी मंडल महासचिव एसके सिंह राणा को प्रदेश उपाध्यक्ष के पद पर नियुक्त किया एवं जैकी ठाकुर को युवा प्रदेश उपाध्यक्ष तथा राहुल सिंह को प्रदेश संगठन मंत्री युवा की जिम्मेदारी दी गई।

इससे पूर्व अनेक किसानों ने मडराक टोल पर पहुंचकर उनका फूल मालाओं से जोरदार स्वागत किया। इसके बाद राष्ट्रीय अध्यक्ष ने पत्रकारों से वार्ता करते हुए कहा कि गन्ना किसानों का लगभग 14 करोड़ रुपया का बकाया सरकार पर है जो कि 14 दिन में देना चाहिए था जबकि 6 महीने से अधिक गुजर जाने के बावजूद गन्ना किसान का भुगतान नहीं हो रहा। उधर बिजली विभाग के लोग किसानों के कनेक्शन काट रहे हैं तथा बैंक के कर्मचारी गांव के जाकर किसानों के साथ दुर्व्यवहार कर रहे हैं और पैसा जमा करने का दबाव बना रहे हैं जब किसान का रुपया सरकार के पास है तो क्या वह साहूकार से लाकर बैंक कर्ज चुकाये ?

उन्होंने कहा कि गंग नहर के नालों की सफाई नहीं हुई इस कारण धान एवं बाजारों की रोपाई ही नहीं हो पा रही है ।प्रदेश एवं केंद्र सरकार किसान की आय दोगुनी करने की बात करती है जबकि उसे फसल का समर्थन मूल्य भी नहीं मिल रहा है उन्होंने मांग की कि सभी प्रकार के आयोग बनाए जा सकते हैं तो किसान आयोग का गठन क्यों नहीं किया जाता 72 साल से किसान की मांग को सभी की सरकारों ने अनसुना किया है इसलिए किसान आयोग का गठन किया जाए नहीं तो सरकार हटने को तैयार रहें।

उन्होंने मांग की कि एक किसान की मृत्यु होती है तो एक करोड़, पुलिस वालों की मृत्यु होती है दो करोड़ और सेना के जवानों की मृत्यु होती है तो 5 करोड़ का मुआवजा दिया जाए।

अपनी मांगों के संदर्भ में उन्होंने ने कहा कि जब विधायक सांसद मंत्री सभी को पेंशन मिलती है तो किसानों को 60 साल से अधिक उम्र होने पर ₹10000 प्रतिमाह पेंशन का भुगतान क्यों नहीं किया जा सकता।

सरकार को किसान चुनता है और उसके पैसे से यह सभी राजनेता पेंसन लेते हैं लेकिन उसकी समस्याओं की सुनवाई भी नहीं होती। जब तक किसान की सुनवाई नहीं होगी देश आगे नहीं बढ़ेगा।

बैठक में राष्ट्रीय सचिव प्रेमपाल सिंह चौहान, प्रदेश महासचिव डॉ शैलेश पाल सिंह, नेम सिंह सोलंकी, अमित कुमार सिंह, दैनिक ठाकुर, राजेश शर्मा, युवा जिला अध्यक्ष अनिल पंडित, एसके सिंह राणा, सौरभ तोमर,अशोक सिंह, श्रवण कुमार बघेल मौजूद रहे।