आकाश इंस्टीट्यूट के छात्र प्रशांत पचौरी ने नीट यूजी में अलीगढ़ किया टॉप

अलीगढ़ में आकाश इंस्टीट्यूट के छात्र प्रशात पचौरी ने प्रतिष्ठित राष्ट्रीय प्रवेश परीक्षा NEET UG 2021 के परिणाम में AIR 60 हासिल करके इंस्टीट्यूट को गौरवान्वित किया है, जो कि उनके माता-पिता और संस्थान के पूरे स्टाफ के लिए उत्साहजनक है। उन्होंने प्रतिष्ठित मेडिकल प्रवेश परीक्षा में 720 में से 705 अंक प्राप्त किए है।

उन्होंने दुनिया की सबसे कठिन प्रवेश परीक्षा माने जाने वाले NEET को कल करने के लिए दो साल के क्लासरूम प्रोग्राम में आकाश इंस्टीट्यूट में दाखिला लिया। उन्होंने नीट में टॉप पर्सटाइल की कुलीन सूची में अपने प्रवेश का श्रेय अवधारणाओं को समझने के उनके प्रयासों और उनके सीखने के कार्यक्रम के सख्त पालन को दिया।

उन्होंने कहा कि मैं आभारी हूं कि आकाश इंस्टीट्यूट ने दोनों में मेरी मदद की है लेकिन संस्थान से सामग्री और कोचिंग के बिना में कम समय में विभिन्न विषयों में कई अवधारणाओं को नहीं समझ पाता।

आकाश एजुकेशनल सर्विसेज लिमिटेड (एईएसएल) के मैनेजिंग डायरेक्टर, आकाश चौधरी ने प्रशात को बधाई देते हुए कहा, हम प्रशांत को उनके अनुकरणीय उपलब्धि के लिए बधाई देते हैं। देश भर से कुल 16 लाख से अधिक छात्र NEET 2021 के लिए उपस्थित हुए। उनकी उपलब्धि उनकी कड़ी मेहनत और समर्पण के साथ-साथ उनके माता-पिता के समर्थन को भी दर्शाती है। हम उनके भविष्य के प्रयासों के लिए उन्हें शुभकामनाएं देते हैं।

पत्रकार वार्ता के दौरान इंस्टीट्यूट के असिस्टेंट इयरेक्टर अरशद एकेडमिक जय कुमार तिवारी ने छात्रों को सम्मानित किया। इस दौरान अलीगढ़ टॉपर छात्र प्रशांत ने अपनी सफलता का श्रेय माता-पिता एवं गुरूजन और आकाश इंस्टीट्यूट के शिक्षकों को दिया। इस दौरान एकेडमिक हैड रोशन कुमार सिंह एवं शाखा प्रमुख सचिन कुमार ने कहा कि महामारी से प्रभावित शैक्षणिक वर्षों के दौरान आकाश इंस्टीट्यूट ने छात्रों को NEET में टॉप पसेंटाइल स्कोर करने के लिए कठिन परिश्रम किया। हमने अपने छात्रों के लिए हमेशा उपलब्ध रहने के लिए अपनी डिजिटल उपस्थिति को आगे बढ़ाया। हमने अध्ययन सामग्री और प्रश्न बैंकों को ऑनलाइन उपलब्ध कराया। हमने परीक्षा की तैयारी और समय प्रबंधन कौशल पर कई आभासी प्रेरक सत्र और सेमिनार आयोजित किए। यह देखकर खुशी हो रही है कि हमारे प्रयास रंग ला रहे हैं, जैसा कि हमारे छात्रों की स्कोर शीट से स्पष्ट हैं, जिनमें से कई अपनी पसंद के उच्च अध्ययन के लिए एक शीर्ष मेडिकल कॉलेज में प्रवेश पाने की राह पर हैं।

NEET का आयोजन नेशनल टेस्टिंग एजेंसी द्वारा सालाना उन छात्रों के लिए क्वालिफाइंग टेस्ट के रूप में किया जाता है, जो भारत में सरकारी और निजी संस्थानों में अंडरग्रेजुएट मेडिकल MBBS, डेंटल (BDS) और आयुष (BAMS, BUMS, BHMS आदि) कोर्स करना चाहते है और विदेश में प्राथमिक चिकित्सा योग्यता हासिल करने के इच्छुक लोगों के लिए है।